HAJIPUR: नाबालिग बेटी से दुष्कर्म के मामले में पिता को उम्र कैद

0
95
HAJIPUR: नाबालिग बेटी से दुष्कर्म के मामले में पिता को उम्र कैद

नाबालिग पुत्री से दुष्कर्म के मामले में विशेष न्यायाधीश पॉक्सो सह एडीजे-6 जीवनलाल की अदालत ने सोमवार को अभियुक्त पिता को आजीवन करावास की सजा सुनाई है। इसके साथ ही 20 हजार रुपए अर्थदंड भई लगाया है। पीड़िता को इस मामले में सरकार की ओर से मिलने वाली सहायता राशि देने के लिए अदालत ने डीएलएसए से उसकी पारिवारिक स्थिति की समीक्षा कर रिपोर्ट मांगी है। यह जानकारी पॉक्सो एक्ट के स्पेशल पीपी मनोज कुमार शर्मा ने दी है। उन्होंने बताया कि इस मामले में पीड़ित बच्ची ने अपने पिता के खिलाफ लिखित शिकायत देते हुए आरोप लगाया था। दोषी पाते हुए अदालत ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है।

इस मामले को लेकर पॉक्सो एक्ट के स्पेशल पीपी ने बताया कि 2 फरवरी 2019 को 11 वर्षीय नाबालिग बच्ची घर में अकेली सोई थी। बच्ची की मां का कई वर्ष पूर्व ही देहान्त हो चुका था। बच्ची घर में अकेली सोई हुई थी। इस बीच पिता को बच्ची के साथ दुष्कर्म करते बच्ची की चेचरी दादी की नजर पड़ी। उनके शोर मचाने पर घर के आसपास के लोग जब जुटे तो आरोपी पिता भागने लगा। तभी ग्रामीणों ने आरोपी को पकड़कर उसे रस्सी से बांध दिया। पुलिस को सूचना दी गई थी। पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी को हिरासत में लिया और बच्ची को कोर्ट में ले जाकर बयान कराया।

woman in blue white and red plaid button up shirt
Photo by RODNAE Productions on Pexels.com

नौ लोगों की कोर्ट में हुई थी गवाही

VOTE NOW क्या बिहार में दारू का कानून वापस लिया जायेगा?

नहीं
50.00%
हाँ
50.00%
पता नहीं
0.00%

पुलिस ने इस मामले में गहनता से जांचकर रिपोर्ट अदालत में समर्पित की थी। जिसमें आरोपी के खिलाफ 2 फरवरी 2019 को आरोप पत्र न्यायालय में दाखिल किया गया था। अदालत ने इस मामले को 18 जून 2019 को संज्ञान में लिया था। वहीं आरोप गठन 28 जून 2019 को हुआ था। इस मामले में विशेष लोक अभियोजक पक्ष की ओर से कुल 9 गवाही प्रस्तुत की गई और अदालत ने दोषी करार कर दिया है।

See also  VAISHALI के लेबर वार्ड में भर्ती महिला के बच्ची लापता, अस्पताल प्रशासन ने झाड़ा पल्ला

सजा के बिंदु पर सुनवाई के लिए चार जुलाई की तिथि निर्धारित की गई है। पीड़िता और एक अन्य गवाह के होस्टाइल होने के बाद भी कोर्ट ने मेडिक रिपोर्ट, 164 के बयान और अन्य गवाहों के अधार पर दोषी कारार दिया है। दोषी करार दिए गए पिता जेल में बंद है। सोमवार को अदालत में वीडियो कॉफ्रेसिंग के जरिए उनकी पेशी हुई।

सोर्स: लाइव हिंदुस्तान, Images: फाइल फोटो

Leave a Reply