HAJIPUR: स्मार्ट क्लास में पढ़ेंगे सरकारी मिडिल स्कूल के छात्र

0
HAJIPUR: स्मार्ट क्लास में पढ़ेंगे सरकारी मिडिल स्कूल के छात्र

माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्कूलों के बाद अब सरकारी मिडिल स्कूल के छात्र भी स्मार्ट क्लास के साथ पढ़ाई कर सकेंगे। वे भी निजी स्कूलों के बच्चों की तरह डिजिटल शिक्षा से परिचित होंगे।

इसके लिए वैशाली जिले में समग्र शिक्षा अभियान के तहत सभी 16 ब्लॉकों से 103 सरकारी मिडिल स्कूलों का चयन किया गया है। गर्मी की छुट्टियों के बाद आईसीटी और डिजिटल इनिशिएटिव के तहत चयनित 105 सरकारी मिडिल स्कूलों में स्मार्ट क्लास की सुविधा शुरू की जाएगी।

बिहार शिक्षा परियोजना निदेशक श्रीकांत शास्त्री के निर्देश और जिला शिक्षा अधिकारी समर बहादुर सिंह के आदेशानुसार कार्यक्रम अधिकारी कविता कुमारी ने सभी चयनित 105 मिडिल स्कूलों में स्मार्ट क्लास रूम लगाने और संचालन में सहयोग के लिए खंड शिक्षा अधिकारी को पत्र जारी किया है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

उन्होंने बताया कि प्रत्येक चयनित विद्यालय में दो-दो स्मार्ट कक्षाएं संचालित की जानी हैं। केंद्र सरकार इसके लिए फंड दे रही है। राज्य परियोजना के टेंडर के बाद एक्टमार्क्स एजुकेशन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड और टेलीकम्युनिकेशन कंसल्टेंट्स इंडिया लिमिटेड का चयन करने के बाद स्मार्ट क्लास रूम की स्थापना और संचालन की जिम्मेदारी दी गई है। जो पूरे बिहार के चुनिंदा मिडिल स्कूलों में काम करेंगे। खंड शिक्षा अधिकारी से उनका सहयोग मांगा गया है।

उन्होंने बताया कि डिजिटल शिक्षा बच्चों के लिए उपयोगी कदम साबित तो होगा ही बच्चों का भविष्य भी बेहतर हो सकेगा। सूत्रों के अनुसार विद्यालय के सर्वे का कार्य कर लिया गया है। अधिष्ठापन की तैयारी की जा रही है। स्मार्ट क्लास अधिस्थापन में प्रति मिडिल स्कूल 02 लाख 40 हजार रुपए खर्च होंगे। केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत बिहार को चयनित मिडिल स्कूलों के लिए राशि की स्वीकृति दी है। यह योजना केंद्र सरकार की बुनियादी साक्षरता एवं अंक ज्ञान से संबंधित योजना के अंतर्गत लागू हो रही है।

Vaishali Se Hai, Hajipur Bihar news

बच्चे नई तकनीकों से होंगे अवगत

बच्चे सामान्य वर्ग के साथ-साथ कंप्यूटर लैब में नई तकनीक से अवगत होंगे। स्मार्ट क्लास में बच्चे चौक, ब्लैक बोर्ड, पेन-पेंसिल के बिना पढ़ाई कर सकेंगे। वे री-मोट के जरिए इसका संचालन कर सकेंगे। शिक्षा विभाग के अनुसार इसके तहत 42 इंच की एलईडी स्क्रीन लगाई जाएगी। सीडी प्लेयर के बैकअप के लिहाज से एक-एक यूपीएस दिए जाएंगे। स्मार्ट क्लास संचालित होने में कोई बाधा उत्पन्न न हो इसके लिए एक इन्वर्टर भी उपलब्ध कराया जाएगा। विज्ञान और गणित में बच्चों को स्मार्ट क्लास के माध्यम से फिल्म प्रदर्शन के जरिए पढ़ाने और समझाने की कोशिश की जाएगी। गणित समझाने के लिए मिडिल स्कूलों के बच्चों को सराहन विधियों के जरिए प्रश्न सॉल्व करना भी सिखाया जाएगा।

उन्नयन बिहार के तहत सांचालित है स्मार्ट क्लास

उन्नयन बिहार के अंतर्गत जिले के कुल 309 माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्कूलों में पहले से ही स्मार्ट क्लास संचालित किए जा रहे हैं। कोरोना काल में 2 वर्षों तक स्मार्ट क्लास प्रभावित रहा। बच्चों के स्कूल नहीं आने के कारण से वे भी प्रभावित हुए। अब जिला शिक्षा विभाग फिर से इन स्मार्ट क्लास को सुचारू रूप संचालन के निर्देश दिए है। कई स्कूलों में उपकरणों की क्षती को पूरा किया जा रहा है। सुचारू रूप से स्मार्ट क्लास संचालन के लिए प्रयास शुरू कर दिया गया है। हालांकि अभी गर्मी की छुट्टी चल रही है। संभवत: छुट्टी के बाद बच्चों को इसका लाभ मिलना शुरू हो जाएगा।

प्रखंड —- चयनित मध्य विद्यालय की संख्या

smart class hajipur

हाजीपुर – 09

भगवानपुर – 03

देसरी – 02

चेहराकला – 08

गोरौल – 06

महुआ – 05

महनार – 05

पातेपुर – 12

लालगंज – 05

राजापाकर – 06

जंदाहा – 05

सहदेई बुजुर्ग – 03

राघोपुर – 14

बिद्दुपुर – 14

वैशाली – 05

पटेढ़ी वेलसर – 01

– स्मार्ट क्लास की फाइल फोटो।

सोर्स: लाइव हिंदुस्तान

📣 Vaishali Se Hai is now available on Facebook & FB Group, Instagram, and Google News. Get the more latest news & stories updates, also you can join us for WhatsApp broadcast … to get updated!

Leave a Reply