किसान क्रेडिट कार्ड धारक उठा सकते हैं तीन लाख रुपये का लाभ, ये है रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

0
19

किसानों को सशक्त बनाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा समय-समय पर कई तरह की योजनाएं लाई जाती हैं। इन योजनाओं के जरिए सरकार छोटे और मध्यम वर्ग के किसानों को प्रोत्साहित करने की कोशिश करती है जिन्हें आर्थिक सहायता की जरूरत होती है और सरकार उनकी आर्थिक मदद कर सकती है, ताकि किसान को खेती के लिए किसी भी तरह की समस्या का सामना करना पड़ सके। सामना करने की जरूरत नहीं है

किसान क्रेडिट कार्ड भी सरकार द्वारा चलाई जा रही कई योजनाओं में से एक है। इस योजना से लाभान्वित होने वाले किसानों को सरकार द्वारा कई तरह की सहायता दी जाती है, जिसके कारण उन्हें खेती में कई तरह की समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ता है।

इस आर्टिकल में हम किसान क्रेडिट कार्ड योजना के बारे में आपको संपूर्ण जानकारी देंगे। हम आपको बताएंगे कि इस योजना से आप किस प्रकार के लाभ ले सकते हैं और इस योजना में किस प्रकार पंजीकरण कर सकते हैं।

VOTE NOW क्या बिहार में दारू का कानून वापस लिया जायेगा?

नहीं
50.00%
हाँ
50.00%
पता नहीं
0.00%

इस योजना से लाभान्वित किसान सरकार द्वारा खेती में उपयोग होने वाली मशीनों, खेत में उपयोग होने वाले कीटनाशक, उत्तम बीज खरीदने या किसी भी प्रकार की खेती से संबंधित समस्या में सरकार से धनलाभ ले सकता है। इस योजना में किसान द्वारा सरकार से लिया हुआ पैसा आसानी से उसके द्वारा की गई खेती से उगने वाली फसल को बेचकर वापस कर सकता है।

किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए आवश्यक शर्तें:

किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए किसान के पास खेती योग्य भूमि होनी चाहिए। यदि किसी किसान के पास अपनी खुद की खेती योग्य भूमि नहीं है तो इस अवस्था में किसान के पास बटाई पर ली हुई भूमि होना आवश्यक है, तथा उस किसान की उम्र कम से कम 18 वर्ष और अधिकतम 60 वर्ष होना आवश्यक है।

See also  एक बार ₹2 लाख जमा करें और 5 साल बाद हर साल ₹13,200 प्राप्त करें

किसान क्रेडिट कार्ड के लिए कैसे अप्लाई कर सकते हैं?

  • किसान क्रेडिट कार्ड के लिए को कोई भी व्यक्ति ऑनलाइन या ऑफलाइन किसी भी प्रकार से अप्लाई कर सकता है। ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए आपको अपनी बैंक भी जा सकते है।
  • इसके अलावा आप https://eseva.csccloud.in/kcc/APIValidate.aspx पर खुद से भी अप्लाई कर सकते हैं और CSC सेंटर से भी किसान क्रेडिट कार्ड बनवा सकते हैं।
  • इस योजना के सबसे अहम बात यह है कि किसान को आवश्यकता पड़ने पर अपने एटीएम से अपनी आवश्यकतानुसार पैसे निकाल सकता है। किंतु यह धनराशि बैंक द्वारा एक लिमिट में दी जाती है।
  • किसान को किस लिमिट में पैसा देना है, यह सरकार द्वारा उसकी की जमीन देखकर तय किया जाता है, कि वह कितने धन को वापस करने में सक्षम है। उसकी क्षमता के आधार पर बैंक और सरकार इस लिमिट को तय करते हैं।

📣 Vaishali Se Hai is now available on Facebook & FB Group, Instagram, and Google News. Get the more latest news & stories updates, also you can join us for WhatsApp broadcast … to get updated!

Leave a Reply