VAISHALI: पुलिस ने किया बंधन बैंको कर्मचारी की लूट का खुलासा, आरोपी ने रची थी खुद लूटने की साजिश

BHAGWANPUR: 23 जून को बिहार के वैशाली जिले के भगवानपुर थाना क्षेत्र में एक बैंक कर्मचारी (वैशाली में बंधन बैंक के कर्मचारी की चोरी) की चोरी का मामला सामने आया था। जांच के बाद पुलिस ने मामले का खुलासा कर दिया है। लूट के मामले की

पटकथा बैंक कर्मचारी ने खुद लिखी थी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है जबकि उसने मामले का खुलासा किया है। आरोपी को पुलिस ने जेल भेज दिया गया है।

यह साजिश खुद प्रतिवादी द्वारा रची गई थी:

एफआईआर में उन्होंने बयान दिया था कि डेढ़ लाख रुपये के साथ उनका मोबाइल फोन भी लूटा गया है। जबकि, पुलिस ने जब मोबाइल को जांच के दायरे में रखा तो उसकी पत्नी मोबाइल का इस्तेमाल कर रही थी। जिसके बाद पुलिस को यह समझने में देर नहीं लगी कि वह क्या है।

इसके बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया और प्रतिवादी के घर से लूटे गए पैसे भी बरामद कर लिए गए। पूरा मामला वैशाली के भगवानपुर का है। चोरी का खुलासा होने पर पुलिस ने पैसों के साथ चोरी की शिकायत दर्ज कराने वाले मजदूर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। Read Now: Raksha Bandha 2022, बेस्ट बजट और फ्रेंडली रक्षा बंधन गिफ्ट आईडिया!

23 जून को दर्ज किया गया था मामला:

जानकारी के मुताबिक, 23 जून को बंधन बैंक के कर्मचारी अनुज कुमार ने थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। जिसमें उसने आरोप लगाया था कि वह बैंक से करीब डेढ़ लाख रुपये लेकर जा रहा था, तभी अज्ञात अपराधियों ने हथियार के बल पर पैसे और मोबाइल चोरी कर लिए।

See also  VAISHALI: लूट का विरोध करने पर बदमाशों ने माइक्रो फाइनेंस कर्मी को मारी गोली

जिसके बाद पुलिस ने तकनीकी जांच शुरू की तो पता चला कि जिस मोबाइल फोन नंबर पर कर्मचारी ने चोरी होने की सूचना दी थी, उसकी दूसरी सीम सक्रिय है और अनुज कुमार की है।

कड़ी जांच के बाद हुआ खुलासा:

पुलिस ने जब आरोपी को गिरफ्तार कर सख्ती से पूछताछ की तो झूठी चोरी का पता चला। पुलिस ने कर्मचारी के ही घर से सारे पैसे बरामद कर लिए। जिसके बाद आरोपी मजदूर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। हालांकि, गिरफ्तार किए गए कर्मचारियों ने कहा कि वे एक गरीब परिवार से आते हैं और उनकी साइकिल चोरी हो गई थी। इसलिए उसने बैंक से पैसे गबन करने के लिए चोरी की झूठी कहानी बताने की शिकायत दर्ज कराई थी।