Small business ideas- एक स्कूटर और 50000 में अपनी दुकान, 30000 महीने की कमाई

0
artificial jewellery business

यदि आप महीने में 25-30 हजार रुपए कमाना चाहते हैं तो आपको इंटरनेट पर अपने लिए नौकरी नहीं बल्कि कुछ और सर्च करना चाहिए। यहां अपन डिस्कस करेंगे एक ऐसा यूनिक बिजनेस आइडिया जिसमें केवल एक स्कूटर और 50,000 रुपए पूंजी की जरूरत है। आप ना केवल 25-30 हजारों रुपए महीना कमा सकते हैं बल्कि इसे बहुत ज्यादा बढ़ा भी सकते हैं।

सबसे पहले समझिए करना क्या है

आपको इंटरनेट पर कुछ चीजें सर्च करना है। अपने शहर की सबसे अच्छी सोसायटियों की लिस्ट बनानी है। ऐसी संस्थाओं की लिस्ट बनानी है जिसमें महिलाओं की संख्या होती है। हर कॉलोनी में कुछ एक्टिव महिलाएं होती है। सोशल मीडिया पर उनकी एक्टिविटी पता चल जाती है। केवल लिस्टिंग करना है। इसके बाद आपको इंटरनेट पर artificial jewellery के होलसेल विक्रेताओं की लिस्ट तैयार करनी है। दर्जनों होलसेल विक्रेता ऑनलाइन स्टोर संचालित कर रहे हैं। आपको उनके यहां जाने की जरूरत नहीं है। आर्डर करके मंगवाना है और पसंद नहीं आए तो वापस कर सकते हैं।

अब समझिए, बिजनेस प्लान क्या है

आर्टिफिशियल ज्वेलरी से आप समझ गए होंगे कि अपन इसे बेचने वाले हैं, लेकिन कोई दुकान लगाकर नहीं बल्कि एक इनोवेटिव आइडिया के साथ। होलसेल मार्केट में आर्टिफिशियल ज्वेलरी ₹50 से लेकर ₹500 तक मिलती है। आपको हर रोज अलग-अलग सोसाइटी या कॉलोनी में महिलाओं के लिए कुछ इवेंट्स ऑर्गेनाइज करने हैं। किटी पार्टी जैसे छोटे मोटे इवेंट्स। कंपटीशन कराएंगे और इनाम में ₹50 वाली ज्वेलरी गिफ्ट करेंगे।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

इसी के साथ अपनी बाकी ज्वेलरी आइटम का डिस्प्ले वहां पर लगा देंगे। सभी महिलाओं को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ लेंगे। अपना नंबर शेयर कर देंगे। बस बिजनेस शुरू हो चुका है। कुछ ज्वेलरी वहीं पर बिक जाएगी लेकिन सबसे बड़ा मुनाफा बाद में होगा। जिसको जब जरूरत होगी वह आपको कॉल करेगा। यदि वह आपके घर आ सकते हैं तो बेस्ट है। नहीं तो आप अपनी स्कूटर में उनकी डिमांड के हिसाब से कुछ वैरायटी लेकर चले जाएंगे।



आर्टिफिशियल ज्वेलरी बाजार में कम से कम 3 गुना कीमत पर बिकती है। ₹250 वाला नेकलेस ₹1000 में आसानी से निकल जाता है। आपकी चॉइस आपके शहर के अकॉर्डिंग होना चाहिए। आर्टिफिशियल ज्वेलरी को किराए पर भी दे सकते हैं। एक बार किराए पर देने पर ज्वेलरी की लागत वसूल हो जाती है। घर की एक दीवार पर डिस्प्ले तो लगाएंगे ही। बिजनेस बढ़ेगा तो इवेंट्स कोआर्डिनेशन के लिए असिस्टेंट हायर कर सकते हैं। शहर में लगने वाले सभी प्रकार के एग्जीबिशन और मेलों में दुकान लगा सकते हैं।

इसमें सबसे इंपॉर्टेंट है

इंटरनेट पर आप कितना अच्छा कलेक्शन सर्च कर पाते हैं।
किटी पार्टी की थीम भी इंटरनेट से सर्च करके पाई जा सकती है।
आर्टिफिशियल ज्वेलरी प्रोडक्ट का प्रेजेंटेशन।
और सबसे खास, इवेंट की होस्टिंग जो खुद आपको करनी है।

Leave a Reply