UP: डंपर ने गंगा जल ले जा रहे सात कांवड़ियों को रौंदा, 6 की मौके पर ही जान गयी, दो घायल

0
217

UTTAR PARDESH: यूपी में दर्दनाक हादसा: गंगा जल लेकर जा रहे सात कांवड़ियों को डंपर ने रौंदा, 6 की मौके पर मौत, दो घायल : उत्तर प्रदेश के हाथरस सादाबाद मार्ग पर स्थित सेंट फ्रांसिस स्कूल के पास शुक्रवार देर रात एक बड़ा हादसा हो गया.

रात में डेढ़ बजे एक डंपर ने गंगाजल ले जा रहे 7 कांवड़ियों को कुचल दिया और इसमें से 6 की मौके पर ही मौत हो गई जबकि इस घटना में दो लोग घायल हो गए और उनका इलाज अस्पताल में चल रहा है. पुलिस का कहना है कि दो घायलों का इलाज आगरा के अस्पताल में चल रहा है. जबकि छह लोगों की मौके पर ही मौत हो गई है और उनका पोस्टमार्टम कराया जा रहा है. मृतक हरिद्वार से ग्वालियर गंगा जल लेकर जा रहे थे.

कांवड़ियों के जत्थे में शामिल एक युवक को बताया जाता है कि उसके साथी हरिद्वार से गंगाजल लेकर मध्यप्रदेश के ग्वालियर जा रहे थे। हादसे के बाद पुलिस प्रशासन के आला अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। जिन्होंने मौके पर राहत कार्य शुरू कर दिया।

VOTE NOW क्या बिहार में दारू का कानून वापस लिया जायेगा?

नहीं
50.00%
हाँ
50.00%
पता नहीं
0.00%

मृतकों में नरेश पाल पुत्र रामनाथ पाल, रमेश पाल पुत्र नाथा सिंह पाल, रणवीर सिंह पुत्र अमर सिंह, जबर सिंह पुत्र सुल्तान सिंह और विकास पुत्र प्रभु दयाल शामिल हैं। पांच मृतकों की उम्र 30 से 40 साल के बीच है।

यूपी के मुख्यमंत्री योगी ने दिए निर्देश

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदत्यनाथ ने भी जनपद हाथरस में सड़क हादसे में हुई लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक प्रकट किया है. CM ने दिवंगतों की आत्मा की शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है. सीएम योगी ने जिला प्रशासन के अधिकारियों को घायलों का समुचित उपचार कराने के निर्देश दिए हैं.

See also  HAJIPUR: 'राष्ट्रपति के बारे में की गई टिप्पणियों के लिए अधीर रंजन और सोनिया गांधी देश से मांफी मांगे' - नित्यानंद राय

CM शिवराज ने भी जताया शोक

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांवड़ियों की मृत्यु को लेकर गहरा शोक व्यक्त किया है. CM शिवराज ने कहा, उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुई सड़क दुर्घटना में ग्वालियर के कांवड़ियों के निधन का हृदय विदारक समाचार प्राप्त हुआ. ईश्वर से दिवंगत आत्माओं को अपने श्रीचरणों में स्थान और शोकाकुल परिजनों को यह वज्रपात सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं. विनम्र श्रद्धांजलि.

Leave a Reply